Categories
Technology

What is Information technology in hindi ? IT का क्या अर्थ है |

Bloginhindi.in में आपका स्वागत हे आज हम Information Technology (सूचना प्रौद्योगिकी) के बारे के थोड़ा जा जानकारी हासिल करेंगे । information technology in hindi

Information Technology  यानि सूचना प्रौद्योगिकी (IT) एक व्यावसायिक क्षेत्र है जो कंप्यूटिंग (Computing) से संबंधित है, जिसमें hardware, software,और सामान्य रूप से, सूचना या प्रणालियों के संचार में शामिल कुछ भी शामिल हैं जो संचार की सुविधा प्रदान करते हैं।

information techology IN HINDI

IT software and hardware In Hindi : सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर

Information Technology में आवश्यक कार्यों को करने के लिए उपयोग किए जाने वाले भौतिक उपकरणों (hardware), virtualization और प्रबंधन या स्वचालन उपकरण, Operating system और एप्लिकेशन (software) की कई परतें शामिल हैं। IT उपकरण, बाह्य उपकरणों और सॉफ़्टवेयर, जैसे laptop, smartphone या यहां तक ​​कि recirding उपकरण। Information Technology आर्किटेक्चर, कार्यप्रणाली और नियमों का भी उल्लेख कर सकता है जो डेटा के उपयोग और भंडारण को नियंत्रित करते हैं।

व्यावसायिक अनुप्रयोगों में SQL Server, transactional systems जैसे real-time order entry, e-mail जैसे एक्सचेंज, वेब सर्वर जैसे अपाचे, ग्राहक संबंध प्रबंधन, और उद्यम संसाधन नियोजन प्रणाली जैसे डेटाबेस शामिल हैं। ये एप्लिकेशन प्रोग्राम उद्देश्यों को निष्पादित करने, समेकित करने, फैलाने या अन्यथा व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए डेटा को प्रभावित करते हैं।

कंप्यूटर सर्वर व्यावसायिक अनुप्रयोग चलाते हैं। सर्वर एक या अधिक व्यावसायिक नेटवर्क पर क्लाइंट उपयोगकर्ताओं और अन्य सर्वरों के साथ बातचीत करते हैं। भंडारण किसी भी प्रकार की तकनीक है जिसमें डेटा के रूप में जानकारी होती है। फ़ाइल डेटा, मल्टीमीडिया, टेलीफोन और वेब डेटा, सेंसर या भविष्य के स्वरूपों से डेटा सहित जानकारी किसी भी रूप में ले जा सकती है। स्टोरेज में वाष्पशील रैंडम एक्सेस मेमोरी (RAM) के साथ-साथ टेप, हार्ड ड्राइव और सॉलिड-स्टेट फ्लैश ड्राइव शामिल हैं।

आईटी आर्किटेक्चर वर्चुअलाइजेशन और क्लाउड कंप्यूटिंग में विकसित हुए हैं, जहां भौतिक संसाधनों को अलग कर दिया गया है और आवेदन आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए विभिन्न कॉन्फ़िगरेशन में रखा गया है। बादलों को स्थानों पर वितरित किया जा सकता है और अन्य आईटी उपयोगकर्ताओं के साथ साझा किया जा सकता है, या एक कॉर्पोरेट डेटा केंद्र या दोनों कार्यान्वयनों के संयोजन में समाहित किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें:-(information technology in hindi)

  1. Internet kya hai | Internet kaise kaam karta hai { hindime जानिए }
  2. What Is The Internet Of Things? इंटरनेट ऑफ थिंग्स क्या है?

 

Information technology vs. computer science : सूचना प्रौद्योगिकी vs कंप्यूटर विज्ञान

बोहोत लोग इन दोनों को एक ही समझ लेते हे पर दोनो में बोहोत बारे अंतर हे।

*Information technology : सूचान प्रौद्योगिकी

Information Technology (IT) में कंप्यूटर सिस्टम को स्थापित करना, व्यवस्थित करना और बनाए रखना शामिल है। इसमें डेटाबेस और नेटवर्क (Database and network) का डिजाइन और संचालन भी शामिल है।

*Computer science : कंप्यूटर विज्ञान

Computer science या कंप्यूटर विज्ञान  पूरी तरह से कुशलतापूर्वक प्रोग्रामिंग कंप्यूटर पर केंद्रित है। कंप्यूटर वैज्ञानिक गणितीय एल्गोरिदम का उपयोग करते हैं। वे सैद्धांतिक एल्गोरिदम और व्यावहारिक समस्याओं का अध्ययन करते हैं जो उन्हें कंप्यूटर सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर के माध्यम से लागू करने में मौजूद हैं।

artificial intelligence,computer graphics और programming computer science के उप-क्षेत्र हैं। सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग भी कंप्यूटर विज्ञान का हिस्सा है।

Also See:- English content [ Best Explain ] Computer components and functions

ये था Information technology के ऊपर सोती ही जानकारी अगर आपको हमारे ये पोस्ट अच्छा लगा हे तोह आपके दोस्तों के साथ जरूर share करे।  धन्यवाद 🙂

Categories
Technology

Internet kya hai | Internet kaise kaam karta hai { hindime जानिए }

Bloginhindi.in में आप सभी का स्वागत है |आप सभी तो इंटरनेट का यूज करते ही होंगे , लेकिन क्या आपको पता हे की इंटरनेट क्या हे और इंटरनेट काम कैसे करते हे ( internet kya hai ) जैसे आप घर बैठे बैठे WhatsApp या Facebook में मैसेज सेंड करते हे और हजार लाखो किलोमीटर दूर बैठे आपके रिस्तेदार या दोस्त आपके मैसेज को कुस ही सेकंड में पढ़ लेते हे | ये सब इंटरनेट की कमाल हे जिससे दुनिया बोहोत ही सोता बन गया हे और दुनिया आपके मुट्ठी में आगे हे | तोह सलिये जानते हे की इंटटरनेट कैसे काम करता हे (  Internet kaise kaam karta hai )

 इंटरनेट क्या हे (Internet kya hai )

what is internet

इंटरनेट ,इंटरनेशनल नेटवर्क ऑफ़ कंप्यूटर ( international network of computer)  मतलब दो या दो से अधिक कंप्यूटर के आपस में कनेक्शन होते हे | आप इंटरनेट के मदद से दुनिया के किसीभी जगह की कोई भी जानकारी हासिल करसकते हो  ,1969 में जब इंसान चाँद पर कदम रखा था तब US के रक्षा कार्यालय ने एडवांस रिसोर्स प्रोजेक्ट एजेंसी (Advance resource project agency) यानि ARPA को नियुक्त किया था उस वक्त सार (4) computer ka network बनाया गया था जिससे उन्हें दाता एक्सचेंज और शेयर (data exchange and share) किया जाता था बाद में उसे कोई एजेंसी के साथ जोड़ा गया था धीरे धीरे यह नेटवर्क बढ़ता गया और बाद में आम लोगों के लिए भी यह ओपन हो गया |

नेटवर्क की सबसे अच्छी बात यह है कि internet me किसी भी एजेंसी का कंट्रोल नहीं होता | India में सबसे पहले 15 अगस्त 1995 सरकारी कंपनी BSNL ने इंटरनेट की शुरुआत की थी बाद में धीरे-धीरे प्राइवेट सर्विस प्रोवाइडर Airtel,Reliance,(private service provider) ने भी शुरुआत कर दी |

Also Read (यह भी पढ़ें)

  1. What Is The Internet Of Things? इंटरनेट ऑफ थिंग्स क्या है?
  2. What is Digital Marketing in Hindi? Digital Marketing क्या है

 

आपमेसे कुस लोग सोच रहे होंगे की हमारे ऊपर कोई बादल हे जिसके अंदर इंटरनेट के सारे डाटा स्टोर रहते हे और वहाँ से इंटरनेट सालता हे | लेकिन हम आपको बता दे की ऐसा कुसभी नहीं हे  इंटरनेट हमारे द्वारा सोरे गई उपग्रह यानि satellite से भी नहीं सालता | उपग्रह से पहले सालता था लेकिन ये तकनीक पुराने हो सुकि हे और इसमें डाटा भी स्लो लोड होता था ,लेकिन हमारे engineers  ने ऐसी तकनीक खोज निकली जिसमे लोग तेज इंटरनेट का use कर सकते हे | ये तकनीक हे optics fiber cable,दुनिया के बोहोत सारे कंपनी और एजेंसी ने मिलकर आठ लाख किलोमीटर से भी जायदा ऑप्टिकल फाइबर  केबल को समुन्दर में बिसया हुवा हे जिससे हमारे इंटरनेट का 90 प्रतिसत use होता हे समुद्र में वही ऑप्टिकल फाइबर बिसाये जाते हे जिनमे कम लागत और कम नुक्सान हो |

क्या आपको पता हे की एक बार egypt में समुद्र के निचे के केबल टूट जाने के कारन 90 प्रतिसत इंटरनेट बंद हो गया था इस समस्या का समाधान बनाया गया बादमे ऐसी कोई टीम बनाई गई जो 24 घण्टे समुद्र में फाइबर ऑप्टिक्स केबल का  निगरानी करते हे | यदि कही पर भी फाइबर ऑप्टिक्स केबल का नुसान होता हे तो ये टीम उसको जल्दी से जल्दी ठीक करदेते हे |
अब आपको पता साल गया होगा की 90 प्रतिशत इंटरनेट cable के जरिये सालता हे , लेकिन 10 प्रतिसत कहा से सालता हे ये भी बोहोत बरा सवाल हे |

हम आपको बता दे की 10 प्रतिसत इंटरनेट कोई ख़ुफ़िया एजेंसी द्वारा सालता हे, इस इंटरनेट को हम आम लोग एक्सेस नहीं कर सकते |

इंटटरनेट कैसे काम करता हे (  Internet kaise kaam karta hai |)

आजकल हम सरे इंटरनेट का use करते हे लेकिन हमे ये पता नहीं होता की इंटरनेट कैसे काम करते हे – इसे समझने के लिए हम इंटरनेट का तीन हिस्से करते हे |

  • पहला होता हे Server जहा दुनिया के सभी जानकारी सेव रहता हे |
  • दूसरा होता हे Service provider- Airtel,Jio,Idea,BSNL etc जो हमे server से जानकारी भीजते हे |
  • तीसरा हमारे कंप्यूटर या मोबाइल फ़ोन का ब्राउज़र जैसे Google Chrome जिससे हम जानकारी सर्च करते हे |

जब हम किसीभी जानकारी फोटो वीडियो या कुसभी search करते हे तोह हमारे request सबसे पहले इंटरनेट सर्विस प्रोवाइड के पास जाता हे जैसे Airtel,Jio |  सर्विस प्रोवाइड  server को request भीजता हे और उसके बाद server उस जानकरी को इंटरनेट प्रोवाइडर के पास भेजता हे और इंटरनेट प्रोवाइडर जानकारी को हमे भीजता हे ये प्रक्रिया काफी तीब्र गति से होता हे जोकि हमे 2-3 सेकंड में रिजल्ट मिलजाते हे |

Also Read (यह भी पढ़ें)

[ Best Explain ] Computer components and functions in english

तो दोस्तों आशा करते है की आपको आपके प्रश्न का उत्तर मिलगया होगा | अगर आपको इस  ” Internet kya hai | Internet kaise kaam karta hai” लेखन के ऊपर कुस सवाल है सुझाब हो तोह निचे कम्मेंट जरूर करे |
और अगर आपको हमारे ये लेखों अच्छा लगा हो तोह आप आपके दोस्तों  के साथ जरूर शेयर करे | धन्यबाद….

 

 

Categories
Health

बियर पिने के फायदे | beer-peene-ke-fayde pura jankari hindi me

आप क्या उम्मीद कर सकते हैं के बीयर  वास्तव में आपके लिए अच्छी है। विज्ञान ने दिखाया है कि बीयर कई आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ ला सकती है, भले ही इसे आमतौर पर अस्वास्थ्यकर माना जाता हो। बस याद रखें कि हम मध्यम पीने के बारे में बात कर रहे हैं इसका सेवन पूरी रात नहीं किया जाता है। beer-peene-ke-fayde

यहां बीयर के कुछ उल्लेखनीय और आश्चर्यजनक लाभ हैं जो पेय के बारे में आपकी धारणा बदल सकते हैं।आज हम आपको beer-peene-ke-fayde   १०  के बारे में बताएँगे |

1. हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद करता है

इटली में फोंडाजियन डि रिसर्च ई क्युरा में किए गए 200,000 विषयों को शामिल करने वाले एक आंख खोलने वाले अध्ययन में पाया गया कि जो लोग रोजाना एक गिलास बीयर पीते हैं, उन्हें हृदय रोग की 31% संभावना कम होती है।

बीयर के दिल की रक्षा करने की यह शक्ति काफी हद तक बीयर के प्राकृतिक एंटीऑक्सिडेंट से मिलती है जिसे फिनोल कहा जाता है। [१] हालांकि, अध्ययन में उन लोगों में हृदय रोग का खतरा भी बढ़ा है, जो बड़ी मात्रा में बीयर का सेवन करते हैं।

2. अल्जाइमर रोग से खुद को बचाएं

शायद बीयर के सबसे उल्लेखनीय स्वास्थ्य लाभों में से एक अल्जाइमर से बचाने की इसकी क्षमता है। लोयोला यूनिवर्सिटी शिकागो स्ट्रिच स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने कई अध्ययनों को देखा और निष्कर्ष निकाला कि अल्जाइमर सहित मनोभ्रंश और संज्ञानात्मक हानि के विभिन्न रूपों को विकसित करने के लिए मध्यम बीयर पीने की संभावना 23% कम थी।

बीयर की सिलिकॉन सामग्री को मस्तिष्क को शरीर में बड़ी मात्रा में एल्यूमीनियम के हानिकारक प्रभावों से बचाने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जो अल्जाइमर के संभावित कारणों में से एक हैं।

3. मधुमेह का कम जोखिम

यह मध्यम बीयर की खपत का एक और उल्लेखनीय लाभ है। 2011 के हार्वर्ड के एक अध्ययन के अनुसार, लगभग 38,000 मध्यम आयु वर्ग के पुरुषों में, जो रोजाना एक से दो बीयर पीते हैं, उनमें टाइप 2 मधुमेह के विकास के जोखिम में 25% की कमी आई है। बीयर में अल्कोहल की मात्रा संवेदनशीलता को बढ़ाती है। इंसुलिन, जो मधुमेह को रोकने में मदद करता है।

इसके अलावा, बीयर घुलनशील फाइबर का एक अच्छा स्रोत है जो मधुमेह वाले लोगों के स्वस्थ भोजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

 

Also Read :-happy-birthday-wishes-in-hindi

 

beer

 

4. गुर्दे की पथरी को रोकने में मदद करता है

फिनलैंड में एक अध्ययन में पाया गया कि बीयर की मध्यम दैनिक खपत गुर्दे की पथरी के विकास के जोखिम को 40% तक कम कर सकती है। इस स्वास्थ्य लाभ को पानी की उच्च सामग्री (लगभग 93%) के लिए जिम्मेदार ठहराया जाता है जो शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को खत्म करने और गुर्दे को ठीक से काम करने में मदद करता है।

इसके अलावा, तैयारी में उपयोग किए जाने वाले हॉप्स में यौगिक हड्डियों से कैल्शियम की रिहाई को धीमा करने में मदद करते हैं, जो बदले में पत्थरों के रूप में गुर्दे में खो गए कैल्शियम के संचय को रोकता है।

5. कैंसर के खतरे को कम करें (beer-peene-ke-fayde)

बीयर में एक महत्वपूर्ण एंटीऑक्सीडेंट होता है जिसे जैंथोहूल कहा जाता है। Xanthohumol में शक्तिशाली कैंसर-रोधी गुण पाए जाते हैं, जो शरीर में कैंसर पैदा करने वाले एंजाइम को खत्म करने में मदद करता है।
विशेष रूप से, मध्यम बीयर की खपत एक निश्चित रासायनिक प्रतिक्रिया को रोकने में मदद करती है जो पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर का कारण बन सकती है। यह भी दिखाया गया है कि बीयर महिलाओं में स्तन कैंसर की संभावना को कम करता है।

6. कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है

यदि आप अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए अपरंपरागत तरीका चाहते हैं, तो आप मध्यम बीयर के सेवन का आनंद ले सकते हैं। बीयर बनाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली जौ में एक प्रकार का घुलनशील फाइबर होता है, जिसे बीटा-ग्लूकन के रूप में जाना जाता है, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है। [2]

7. अपने रक्तचाप को प्रबंधित करने में सहायता करें

आपको यह जानने में भी रुचि हो सकती है कि बीयर रक्तचाप को प्रबंधित करने में मदद कर सकती है। यह हार्वर्ड के एक अध्ययन के अनुसार है जिसमें पाया गया है कि 25 से 40 वर्ष की उम्र के बीच की महिलाएं जो मध्यम बीयर पीती हैं उनमें शराब या अन्य मादक पेय पीने वाली महिलाओं की तुलना में उच्च रक्तचाप विकसित होने की संभावना काफी कम थी।

8. हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है

बीयर में सिलिकॉन का सभ्य स्तर होता है, एक तत्व जो हड्डी के स्वास्थ्य से जुड़ा होता है।  ” beer-peene-ke-fayde ”

2009 में टफ्ट्स में किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि जो लोग रोजाना एक या दो गिलास बीयर पीते हैं उनमें हड्डियों का घनत्व अधिक होता है और इस तरह उन लोगों की तुलना में फ्रैक्चर होने का खतरा कम होता है जिन्होंने एक गिलास बीयर का आनंद नहीं लिया। या शराब। हालांकि, अध्ययन में यह भी पाया गया कि दो से अधिक पेय का सेवन करने से हड्डी के फ्रैक्चर का खतरा बढ़ गया।

9. मोल्ड के इलाज में मदद करें (beer-peene-ke-fayde)

बीयर के बारे में एक और दिलचस्प तथ्य यह है कि इसे रूसी के लिए सबसे अच्छे प्राकृतिक उपचारों में से एक माना जाता है। बीयर के इस विशेष स्वास्थ्य लाभ को खमीर और विटामिन बी सामग्री के उच्च स्तर के लिए जिम्मेदार ठहराया जाता है।

रूसी से छुटकारा पाने के लिए सप्ताह में दो से तीन बार बीयर की बोतल से अपने बालों को रगड़ें और अपने बालों को नरम और चमकीला बनाएं।

10. स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में मदद करता है

अमेरिकन स्ट्रोक एसोसिएशन द्वारा किए गए अध्ययनों से पता चला है कि जो लोग मध्यम मात्रा में बीयर पीते हैं, वे स्ट्रोक के अपने जोखिम को कम कर सकते हैं – इसे प्राप्त करें – जो नहीं पीते हैं उनकी तुलना में एक असाधारण 50%। हार्वर्ड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के शोधकर्ताओं ने बताया कि मध्यम मात्रा में बीयर रोजाना रक्त के थक्के को रोकने में मदद करती है जो हृदय, गले और रक्त के प्रवाह को अवरुद्ध करते हैं |

 

Also Read: – indianfestival.co

swami-vivekananda-biography-hindi

अगर आपको हमारे ये पोस्ट अच्छा लोग तोह आप आपके दोस्तों के साथ भी शेयर करे | धन्यबाद

 

 

Categories
Technology

What Is The Internet Of Things? इंटरनेट ऑफ थिंग्स क्या है?

What Is The Internet Of Things इंटरनेट ऑफ थिंग्स क्या

है?

इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) एक कंप्यूटिंग अवधारणा है जो रोजमर्रा की भौतिक वस्तुओं के इंटरनेट से जुड़े होने और अन्य उपकरणों के लिए खुद को पहचानने में सक्षम होने के विचार का वर्णन करती है। इस शब्द को RFID के साथ संचार की विधि के रूप में बारीकी से पहचाना जाता है, हालांकि इसमें अन्य सेंसर तकनीक, वायरलेस तकनीक या QR कोड भी शामिल हो सकते हैं।

इंटरनेट ऑफ थिंग्स महत्वपूर्ण है क्योंकि एक वस्तु जो खुद को डिजिटल रूप से प्रस्तुत कर सकती है वह अपने आप वस्तु से कुछ अधिक हो जाती है। अब ऑब्जेक्ट केवल अपने उपयोगकर्ता से संबंधित नहीं है, लेकिन अब आसपास की वस्तुओं और डेटाबेस डेटा से जुड़ा हुआ है। जब कई वस्तुएं एक साथ काम करती हैं, तो उन्हें “परिवेश बुद्धि” के रूप में जाना जाता है।

Experts explains | विशेषज्ञ बताते हैं

यह मूल रूप से किसी भी डिवाइस को इंटरनेट पर एक-दूसरे को जोड़ने की अवधारणा है। इसमें सेल फोन, कॉफी निर्माता(coffee machine), वॉशिंग मशीन, हेडफोन, लैंप, पहनने योग्य डिवाइस और लगभग कुछ भी जो आप सोच सकते हैं, सब कुछ शामिल है। यह मशीनों के घटकों पर भी लागू होता है, उदाहरण के लिए, एक हवाई जहाज का एक जेट इंजन या एक तेल रिग की ड्रिल। जैसा कि मैंने उल्लेख किया है, अगर इसमें एक चालू और बंद स्विच है तो संभावना है कि यह Internet Of Things(IoT) का एक हिस्सा हो सकता है।

विश्लेषक फर्म गार्टनर का कहना है कि 2020 तक 26 बिलियन से अधिक कनेक्टेड डिवाइस होंगे … जो बहुत सारे कनेक्शन हैं (कुछ का अनुमान है कि यह संख्या 100 बिलियन से अधिक हो सकती है)। इंटरनेट ऑफ थिंग्स कनेक्टेड “चीजों” का एक विशाल नेटवर्क है जिसमें लोग भी शामिल हैं।

 

How Does This Impact You? यह आपको कैसे प्रभावित करता है?

भविष्य के लिए नया नियम बनने जा रहा है। “जो कुछ भी जुड़ा हो सकता है वह जुड़ा होगा।” लेकिन पृथ्वी पर आप एक दूसरे से बात करने वाले इतने सारे जुड़े उपकरण क्यों चाहेंगे? इस बात के कई उदाहरण हैं कि यह कैसा दिख सकता है या संभावित मूल्य क्या हो सकता है। उदाहरण के लिए कहें कि आप एक बैठक के लिए अपने रास्ते पर हैं; आपकी कार आपके कैलेंडर तक पहुंच सकती है और पहले से ही सबसे अच्छा रास्ता जान सकती है। यदि ट्रैफ़िक भारी है तो आपकी कार दूसरी पार्टी को यह सूचित करने के लिए एक पाठ भेज सकती है कि आपको देर हो जाएगी। क्या होगा यदि आपकी अलार्म घड़ी आपको सुबह 6 बजे उठती है और फिर आपके कॉफी बनाने वाले को आपके लिए कॉफी पीना शुरू कर देती है? यदि आपके कार्यालय उपकरण को पता था कि यह आपूर्ति पर कम चल रहा है और स्वचालित रूप से फिर से आदेश दिया गया है?

यदि कार्यस्थल में आपके द्वारा उपयोग किया जाने वाला पहनने योग्य उपकरण आपको बता सकता है कि आप कब और कहां सक्रिय और उत्पादक थे और उस जानकारी को अन्य उपकरणों के साथ साझा किया था जो आपने काम करते समय उपयोग की थीं?

व्यापक पैमाने पर, इंटरनेट ऑफ थिंग्स को परिवहन नेटवर्क जैसी चीजों पर लागू किया जा सकता है: “स्मार्ट सिटीज़” जो कचरे को कम करने और ऊर्जा उपयोग जैसी चीज़ों के लिए दक्षता में सुधार करने में हमारी मदद कर सकती हैं; यह हमें समझने और सुधारने में मदद करता है कि हम कैसे काम करते हैं और जीते हैं।

internet of things

The Future of IoT | भविष्य

बुद्धिमान मशीनें पहले से ही स्वास्थ्य, विनिर्माण, शहर नियोजन, परिवहन और बिजली उत्पादन के रूप में उद्योगों को बदलने के लिए शुरू कर रही हैं।

हम एक रोमांचक वर्तमान में रह रहे हैं और भविष्य इस मोर्चे पर और भी अधिक आकर्षक होगा। एक अनुमान के अनुसार, बिजनेस इनसाइडर ने भविष्यवाणी की है, अर्थव्यवस्था के कम से कम 16 अलग-अलग सेक्टर इस उभरती हुई तकनीक द्वारा अगले 20 वर्षों में बदल दिए जाएंगे।

सरकारी अनुदान पहले से ही स्मार्ट परिवहन और स्मार्ट शहरों की ओर बह रहे हैं, जो जनता के लिए कुछ सबसे महत्वपूर्ण लाभ दे सकते हैं।

वियरेबल प्रौद्योगिकी को भी आने वाले वर्षों में इंटरनेट ऑफ थिंग्स के सबसे महान अनुप्रयोगों में से एक माना जा रहा है। फिटबिट और स्मार्टवॉच( Fitbit and smartwatches) जैसे एक्टिविटी ट्रैकर जैसे एप्पल वॉच ने उपभोक्ता बाजार में लोकप्रियता हासिल की है। बिज़नेस इनसाइडर की बीआई इंटेलिजेंस को उम्मीद है कि 2020 के अंत तक व्रैबल्स मार्केट 162.9 मिलियन यूनिट तक बढ़ जाएगा।

“इंटरनेट ऑफ थिंग्स जीवन के हर कोने को बदल रहा है: घर, कार्यालय, शहर की सड़कें और उससे आगे। IoT उत्पाद हमें दरवाजे के ताले, रोशनी और उपकरणों पर अधिक नियंत्रण देते हैं; संसाधन उपभोग की आदतों में अंतर्दृष्टि प्रदान करें; व्यावसायिक प्रक्रियाओं को कारगर बनाना; और बेहतर तरीके से हमें लोगों, प्रणालियों और वातावरण से जोड़ते हैं जो हमारे दैनिक जीवन को आकार देते हैं।

Categories
Technology

What is the Hyperloop One? हाइपरलूप वन क्या है?

एक तेज और तेज परिवहन भारत में जैसे ही आएगा। हाइपरलूप वन दुनिया में कहीं भी जल्दी जाने का एक नया तरीका है। एलोन मस्क ने एक नई ट्रेन प्रणाली के लिए निर्माण क्रांति शुरू की है। हाइपरलूप वन एक प्रस्तावित यात्री और माल परिवहन सेवा के पीछे कंपनी का नाम है जो 760mph की शीर्ष गति से यात्रा करेगा।

यह एक ऐसी प्रणाली है जहां चुंबकीय रूप से उत्तोलन करने वाले कैप्सूल को उच्च दबाव वाली नलिकाओं के माध्यम से उच्च गति पर भेजा जाता है, जिससे संभावित परिवहन समय कम हो जाता है – लोगों और वस्तुओं का – 80% से अधिक। या आप आसानी से जानते हैं कि परिवहन का नया तरीका एक पॉड जैसा वाहन है जिसे कम दबाव वाली ट्यूबों के भीतर पटरियों के साथ रेसिंग भेजा जाएगा।

What is the Hyperloop One? हाइपरलूप वन क्या है?

हाइपरलूप वन को वर्जिन हाइपरलूप वन कहा जाता है।  दिसंबर 2017 में, वर्जिन हाइपरलूप वन,

सर रिचर्ड ब्रैनसन की गैर-कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में एक कंपनी है, जिसने अपने हाइपरलूप पॉड के साथ एक नया गति रिकॉर्ड स्थापित किया है। हाइपरलूप परिवहन की अवधारणा अगस्त 2013 में एलोन मस्क द्वारा शुरू की गई थी और नामित की गई थी। लॉस-एंजिल्स स्थित वर्जिन हाइपरलूप वन ने रविवार को महाराष्ट्र सरकार के साथ मुंबई और पुणे के बीच दुनिया का पहला ऑपरेशनल लूप बनाने और विकसित करने के लिए एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। ।

Hyperloop One for India.

 

अगर आपको लगता है कि मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे सबसे अच्छी चीज थी जो कभी महाराष्ट्र में हो सकती है, तो अपनी उम्मीदों को पूरी तरह से दूर करने की तैयारी करें …

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और सर रिचर्ड ब्रैनसन ने वर्जिन हाइपरलूप वन और भारतीय राज्य महाराष्ट्र के बीच साझेदारी की घोषणा की। यह हर भारतीय लोगों की सबसे बड़ी खबर है। भारतीय एक विकासशील देश है इसलिए यह महान भारतीय भविष्य की कुंजी है। यह खबर सभी भारतीयों के लिए मददगार कदम है।

इससे भी बड़ी खबर यह होगी कि भारत एक परिचालन प्रणाली रखने वाला पहला देश बन सकता है, यहां तक ​​कि दुबई एक करीबी दूसरा देश है।

भारत के लिए मार्ग के विकल्प इस प्रकार हैं: बेंगलुरु-टू-चेन्नई (20 मिनट में 334 किमी), बेंगलुरु-टू-तिरुवनंतपुरम (40 मिनट में 726 किमी), दिल्ली से मुंबई जयपुर और इंदौर (53 मिनट में 1,309 किलोमीटर) मुंबई से चेन्नई बेंगलुरु (50 मिनट में 1,102 किमी), और बेंगलुरु से चेन्नई (18 मिनट में 324 किमी)।

 

 How does it work? यह कैसे काम करता है?

हाइपरलूप परिवहन की एक नई प्रणाली है जो फली या कंटेनरों को एक ट्यूब के माध्यम से उच्च गति से यात्रा करती है जिसे एक वैक्यूम में पंप किया गया है। ट्रेन पॉड्स या तो चुंबकीय उत्तोलन तकनीक का उपयोग करके तैरेंगे या एयर कॉस्टर का उपयोग करके फ्लोट करेंगे, जैसे कि एयर हॉकी टेबल पर पक कैसे यात्रा करते हैं। यात्री कैप्सूल निर्वात ट्यूबों की तरह हवा के दबाव से नहीं बल्कि दो विद्युत चुम्बकीय मोटरों द्वारा चलते हैं।

इसका उद्देश्य 760 मील प्रति घंटे की शीर्ष गति से यात्रा करना है। ट्यूब पटरियों में एक वैक्यूम होता है, लेकिन पूरी तरह से हवा से मुक्त नहीं होता है। इसके बजाय, उनके अंदर कम दबाव वाली हवा होती है। वायु बीयरिंग पैडल की तरह स्की होते हैं जो घर्षण को कम करने के लिए ट्यूब की सतह के ऊपर कैप्सूल लगाते हैं। ट्यूब ट्रैक को मौसम और भूकंप के प्रति प्रतिरक्षा के लिए बनाया गया है। वे आत्म-शक्ति के लिए भी डिज़ाइन किए गए हैं।

जमीन के ऊपर ट्यूब को ऊपर उठाने वाले खंभों में एक छोटा फुट-प्रिंट होता है जो भूकंप की स्थिति में बह सकता है। प्रत्येक ट्यूब सेक्शन लचीले ढंग से घूम सकता है।

हालांकि, मैग्लेव ट्रेन तकनीक के दो प्रकार हैं – विद्युत चुम्बकीय निलंबन (ईएमएस) ईएमएस एक चुंबकीय स्टील ट्रैक को आकर्षित करने के लिए ट्रेन में इलेक्ट्रॉनिक नियंत्रित इलेक्ट्रोमैग्नेट का उपयोग करता है, जबकि ईडीएस एक पारस्परिक रूप से विकर्षक उत्पादन करने के लिए ट्रेन और रेल दोनों पर सुपरकंडक्टिंग विद्युत चुम्बक का उपयोग करता है। बल जो गाड़ियाँ बनाता है।

और इलेक्ट्रोडायनामिक सस्पेंशन (ईडीएस) ईडीएस तकनीक का एक प्रकार है – जैसा कि इंडक्ट्रैक सिस्टम में उपयोग किया जाता है – यह ट्रेन के नीचे की ओर स्थायी चुंबक की एक सरणी का उपयोग करता है, इसके बजाय विद्युत चुम्बकीय या ठंडा सुपरकंडक्ट मैग्नेट। इसे निष्क्रिय चुंबकीय उत्तोलन तकनीक के रूप में भी जाना जाता है।

यह है कि वर्तमान मैग्लेव ट्रेनें जापान में 500 किमी / घंटा मैग्लेव ट्रेन की तरह सुपर गति प्राप्त कर सकती हैं। वर्जिन हाइपरलूप वन से एक हाइपरलूप प्रस्ताव, निष्क्रिय चुंबकीय उत्तोलन का उपयोग करता है, जिसका अर्थ है कि मैग्नेट गाड़ियों पर हैं और एक एल्यूमीनियम ट्रैक के साथ काम करते हैं। वर्तमान सक्रिय मैग्लेव को कॉपर कोइलिंग के साथ संचालित पटरियों की आवश्यकता है, जो महंगी हो सकती है। यह एक ऐसी सुविधा है जो भविष्य या भविष्य के लिए सबसे अच्छा तरीका है।

 

हाइपरलूप कब लॉन्च होगा ?When will Hyperloop launch?

हाइपरलूप वन को उम्मीद है कि 2020 तक कार्रवाई में पूरी तरह से ऑपरेशनल हाइपरलूप सिस्टम होगा। हालांकि, यह एक अच्छी राशि लेगा। सरकारों और लागतों के साथ हाइपरलूप अरबों में चला जाएगा, जिससे कई विशेषज्ञ सवाल करेंगे कि क्या यह कभी होगा।

दुबई रोड्स एंड ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी (RTA) के साथ व्यवहार्यता अध्ययन पर कंपनी द्वारा सहमति देने के बाद UAE में हाइपरलूप वन द्वारा पहला कमर्शियल हाइपरलूप ट्रैक बनाया जा सकता है। प्रस्तावित प्रणाली दुबई और अबू धाबी को केवल 12 मिनट की यात्रा से जोड़ती है।

हालांकि, दुनिया भर में विभिन्न प्रस्तावित परियोजनाओं के बावजूद, आलोचकों का दावा है कि हाइपरलूप बुनियादी ढांचा एक व्यापक परिवहन प्रणाली में विकसित करने के लिए बहुत महंगा है।

Categories
Blogging

What is Digital Marketing in Hindi? Digital Marketing क्या है

“what is digital marketing in hindi ” जैसे की हम सभी जानते हे की आज का योग डिजिटल योग हे और भारत में भी डिजिटल इंडिया

का प्रभाब पर सुका हे सभी लोग धीरे धीरे digitally अपने आपको अपने बिज़नेस को या अपने कामको आगे लेजा रहे हे | ऐसे में यदि

आपको Digital Marketing क्या है पता नहीं तो शायद आप दूसरों से थोड़े पीछे हो सकते हैं.

डिजिटल मार्केटिंग क्या है ?

what is digital marketing

डिजिटल मार्केटिंग दो मुख्य शब्दों से मिल के बना है डिजिटल और मार्केटिंग |

Wikipedia के अनुसार वह service या product जिसे बेचने के लिए हम digital technologies जैसे internet और अन्य माध्यमों का

इस्तेमाल करते है उसे digital marketing या online marketing कहते है।

डिजिटल का अभिप्राय इन्टरनेट से है, मार्केटिंग का अर्थ है विपणन | अपने व्यवसाय एवं सेवओं को इन्टरनेट के माध्यम से अपने ग्राहकों के

समक्ष प्रस्तुत करने की प्रक्रिया को डिजिटल मार्केटिंग कहते हैं |

Digital marketing क्यो जरूरी है |

आज का समाज समय अल्पता से जूझ रहा है, इसलिये डिजिटल मार्केटिंग आवश्यक हो गया है। हर व्यक्ति इंटरनेट से जुड़ा है वे इसका

उपयोग हर स्थान पर आसानी से कर सकता है । अगर आप किसी से मिलने को कहो तो वे कहेगा मेरे पास समय नही है, परंतु सोशल साइट

पर उसे आपसे बात करने में कोई समस्या नही होगी । इन्ही सब बातों को देखते हुए डिजिटल मार्केटिंग इस दौर में अपनी जगह बना रहा है।

सभी जानते है कि marketing किसी भी कंपनी के लिए कितनी जरूरी होती है। इसके लिए कंपनियां अगल से अपना बजट तैयार करती है।

offline marketing करना बहुत महंगा होता है। जबकि online marketing सस्ता होने के साथ लाभदायक सिद्ध होता है। तो चलिए जानते

है digital marketing क्यो जरूरी है।

also read:-

* Online Paise Kaise kamaye!

* Google Adsense kya he | हिंदी में जाने आसान भासा पर

 

 

जनता भी अपनी सुविधा के अनुसार इंटरनेट के जरिये अपना मनपसंद व आवश्यक सामान आसानी से प्राप्त कर सकती है । अब बाज़ार

जाने से लोग बचते हैं ऐसे में डिजिटल मार्केटिंग बिज़नेस को अपने products और services लोगो तक पहुंचाने में मदद करती है। डिजिटल

मार्केटिंग कम समय में एक ही वस्तु के कयी प्रकार दिखा सकता है और उप्भोक्ता को जो उपभोग पसंद है वे तुरंत उसे ले सकता है। इस

माध्यम से उपभोकता का बाज़ार जाना वस्तु पसंद करने, आने जाने में जो समय लगता है वो बच जाता है ।

Why need of digital मार्केटिंग

१. यह एक सरल और fast तरीका है अपने product को promote करने के लिए

2. Offline marketing की तुलना online marketing सस्ता होता है।

3. Digital marketing से आपको बेहतर Result मिलता है।

4. यह आपके product को target audience तक पहुँचने का सबसे अच्छा तरीका है।

5. Digital marketing में आपको हज़ारो तरीके मिलते है अपनी service और product को promotion करने के लिए

6. digital marketing से आपकी कंपनी की Branding value बढ़ती है।

7. यह एक ऐसा तरीका है जिसे आप अपने product को globally promote कर सकते है।

8. digital marketing से आप product की marketing करने के साथ उसे online बेच सकते है।

मुझे आशा हे की आपको digital marketing के बारे में कुस न कुस जानकारी जरूर मिल गई होंगे | अगर आपको लगता हे की यह

जानकारी आपके काम का हे तोह इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिये | और हमारे साथ बने रहे |

Also read:- best collections of mobile app and games in 2019

https://bloginhindi.in/robotics-technology/

Categories
Wishes & Status

hindi shayari good morning

जितनी खूबसूरत ये गुलाबी सुबह है,
उतना ही खूबसूरत आपका हर पल हो,
जितनी भी खुशियाँ आज आपके पास हैं,
उससे भी अधिक आने वाले कल हो।

hindi shayari good morning

good morning

 

 

ऐ सुबह तुम जब भी आना,
सबके लिए खुशियां लाना,
हर चेहरे पर हंसी सजाना,
हर आँगन में फूल खिलाना।
सुप्रभात

 

सुबह-सुबह प्यारे से फूल खिल गए,
पंछी अपने सफ़र पर उड़ गये,
सूरज आते ही तारे भी छुप गये,
लो आप भी मीठी नींद से उठ गये।
शुभ प्रभात

 

सवेरे सवेरे हो खुशियों का मेला,
न लोगों की परवाह न दुनिया का झमेला,
परिंदों का शोर हो और मौसम अलबेला,
मुबारक हो आपको आज का सवेरा।

सुप्रभातम् आप का दिन मंगलमय हो।

 

hindi shayari good morning

हर सुबह हम बस उनको ही याद करते हैं,
जो इस दिल की धड़कन में हमेशा रहते हैं।
गुड मॉर्निंग।

 

आज फिर एक नयी सुबह आई है,
साथ अपने एक नयी उम्मीद लाई है,
है असर तुम्हारी याद का ऐसा कि
हवाएं भी अपने साथ तुम्हारी परछाई लाई है।
गुड मॉर्निंग।

 

बनकर खुशबू हम तेरी यादों में रहेंगे,
बनकर लहू तेरी हर नस में बहेंगे,
चाहे जितने भी दूर हम क्यों ना रहे,
हर सुबह सबसे पहली हम गुड मॉर्निंग कहेंगे।

 

ताज़ी हवा फूलों की ख़ुश्बू महका रही है,
सुबह की रोशनी के साथ चिड़िया चहचहा रही हैं,
आँखें खोल कर तुम भी ले लो ये नज़ारे,
उठाने तुम्हे खुद जहां की सारी खुशियां आ रही हैं।
गुड मॉर्निंग।

 

ताज़ी हवा फूलों की ख़ुश्बू महका रही है,
सुबह की रोशनी के साथ चिड़िया चहचहा रही हैं,
आँखें खोल कर तुम भी ले लो ये नज़ारे,
उठाने तुम्हे खुद जहां की सारी खुशियां आ रही हैं।
गुड मॉर्निंग।

 

सुबह बनने के लिए हर शाम को ढ़लना होता है
मोती बनने के लिए बर्फ को पिघलना होता है
हाथ पर हाथ धर कर ही बैठे मत रहो तुम
मंजिल पाने के लिए हर इंसान को चलना होता है

 

बस वही तो दिन थे,जब हम दिल की सुनते थे
बस वही तो दिन थे,जब हम सच्चाई को चुनते थे
लेकिन ये जो समय है,ये तो चलता जाएगा
बचपन जवानी बुढापे में,जीवन को बदलता जाएगा

 

 

उसके ख्यालो मे हम खो रहे होते
उसकी बाहों मे हम रो रहे होते
आपसे “गुड मार्निंग” कहने के लिए जाग गए
वरना अब तक हम सो रहे होतें

 

ये सुबह जितनी खूबसूरत है,
उतना ही खूबसूरत आपका हर पल हो,
जितनी खुशियाँ आज आपके पास है,
उससे भी ज्यादा आने वाले कल मे हो।
•●‼ आपका दिन शुभ हो ‼●• सुप्रभात

 

Categories
Technology

Web Hosting Kya Hai | कैसे और कहा से ख़रीदे

Web Hosting Kya Hai

दोस्तों बोहोत से लोग “web hosting kya he ” web hosting kaam kese karte he “इस के बारे में जानना सहते हे । आज हम इसके

बारेमे बायत करेंगे ,Web hostibg service आखिर है क्या और  वेबसाइट बनाने के लिए होस्टिंग की जरुरत क्यों पड़ती है . वर्डप्रेस पर

blog बनाने के लिए होस्टिंग क्यों जरुरी है . अगर आप इन सभी सवालो के जवाब जानना चाहते हो तो इस पोस्ट को अच्छे से पढ़िए , अछि

जानकारी मिलेगी ।

[Internet kya he] इन्टरनेट क्या है?

सबसे पहले हम जानेंगे की इंटरनेट क्या है और ये काम कैसे करती है . क्यूक इंटरनेट को जानने के बाद आपको web hosting भी अचे से

समझ आ जाएगी

समझ ले Internet दुनिया भर में मौजूद एक दूसरे से जुड़े हुए कम्प्यूटर्स का जाल है . Internet का मतलब होता है एक दूसरे के साथ जुड़ना

. जब आप किसी दूसरे कंप्यूटर उसेर्स के साथ अपने Computer में से information या data receive और transfer करते हो तो आप

दोनों का आपस में एक छोटा सा network बन जाता है . इसे हम इंटरनेट कह सकते है . इसी तरह आप दो mobile को भी connect

करोगे तो वो भी इंटरनेट का ही भाग कहलायेगा ।

आज internet ने इतनी तरक्की कर ली है की दुनिया भर में इतने सरे कम्प्यूटर्स एक दूसरे से जुड़े हुए हैं की जिनकी हम गिनती भी नहीं कर

सकते . इसी लिए internet को एक जाल भी कहा जाता है . वैसे हम दूसरे यूजर के computer की information देख नहीं सकते क्युकी

सबकी personal information secure होती है . पर अगर आपकी मर्ज़ी हो तो कोई भी आपकी information देख सकता है |

आज इसके लिए बहुत से सॉफ्टवेयर बन गए है . जिनसे हम दूसरे कंप्यूटर की details देखने के साथ उस par काम भी कर सकते है और

कोई भी software problem को सोल्वे कर सकते है . शायद आपने इसके बारे में सुना भी होगा की हम किसी और के PC को अस्प्ने pc से

repair कर सकते है .

तो अब आपको ये तो पता चल गया होगा की online एक दूसरे कम्प्यूटर्स को connect करना ही internet हे .

अब हम सवाल web hosting के बारे में बात करते है .

web hosting

वेब होस्टिंग सारे websites को Internet मे जगह देने की सेवा प्रदान करता है. इसकी वजह से किसी एक website को पूरी दुनिया मे

Internet के ज़रिए access किया जा सकता है| जगह देता है से मेरा मतलब है की आपके website के files, images, videos, etc को

एक special computer पे store करके रखता है. इशी को हम web server कहते हैं.

वो computer हर वक़्त 24×7 Internet से connected हो कर रहता है. Web hosting की सेवा हमे बहुत सारे companies प्रदान करते

हैं जैसे Godaddy, Hostgator, Bluehost, namecheap,etc. और इनको हम web host भी कहते हैं. एक हिसाब से हम ये भी कह सकते

हैं की अपने वेबसाइट को दूसरे high powered computers (web servers) मे store करके रखने के लिए हम उन्हे Payment देते हैं |

 

Web hosting काम कैसे करता है?

जब भी कोई Internet यूज़र अपने web browser पे आपका domain name type करता है जैसे मान लीजिए https://bloginhindi.in,

फिर उसके बाद Internet आपके domain name को उस web server से जोड़ देता है जहाँ आपके website का फाइल्स पहले से ही

store हो कर रखा गया है. जोड़ने के बाद website का सारा information उस यूज़र के कंप्यूटर मे पहुँच जाता है फिर वहाँ से यूज़र अपने

ज़रूरतो के हिसाब से पेज को view करता है और ज्ञान ग्रहण करता है.

Hosting kaha se kahride?

जिस वेबसाइट पर से हम होस्टिंग खरीदते है . उस पर हमारी साइट होस्ट होती है और हमारी साइट का server वही होता है . इस server

पर हम अपने हिसाब से कितनी भी जगह खरीद सकते है . ये जगह MB, GB में मापी जाती है |

मई आपको suggest करूँगा की आप unlimited bandwidth or unlimited storage वाली hosting ही ख़रीदे . जिससे आपको

future में कोई problem न हो . और जब आपकी साइट पर ज्यादा रीडर आते है तो काम bandwidth होने पर site slow न पर जये .

इसीलिए unlimited plan ही चूसे करे .

इंटरनेट पर वेब होस्टिंग प्रोवाइड करने वाली बहुत साडी कम्पनीज है . पर कुछ ही है जो रियल हमे हमे बेटर service provide करती है .

hostgator or ब्लूहोस्ट namecheap सबसे ज्यादा पॉपुलर और बेहतर service देने वाली होस्टिंग कम्पनीज है . और सबसे अछि बात ये

फुल टाइम एक्टिव रहती है .

 

अगर आपके मन में कोई सवाल है या इस ऐप के बारे में कोई समस्या है तो कमेंट करें। हम आपको जवाब देंगे।

Categories
Blogging

What is Full form of NEFT | NEFT क्या हे ?

NEFT क्या हे ? और What is Full form of NEFT

neft

राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (National Electronic Fund Transfer)  एक देशव्यापी भुगतान प्रणाली है जो एक बैंक के खाते से दूसरे

खाते में धन के हस्तांतरण की अनुमति देता है। ऑनलाइन बैंकिंग पर बढ़ते फोकस के साथ, एनईएफटी फंड ट्रांसफर करने के सबसे

लोकप्रिय तरीकों में से एक बन गया है। चूंकि यह इलेक्ट्रॉनिक रूप से किसी भी बैंक शाखा से किसी व्यक्ति को धन हस्तांतरित कर सकता

है, इसने धन हस्तांतरण के लिए बैंक शाखा का दौरा करने की आवश्यकता को समाप्त कर दिया है। आइए जानें भारत में एनईएफटी कैसे

संचालित होता है और इसके क्या लाभ हैं। आइए जानें कि क्या है NEFT।

 

 

What is NEFT Process?  NEFT प्रक्रिया क्या हे ?

यदि कोई व्यक्ति अपने बैंक खाते से किसी अन्य व्यक्ति के बैंक खाते में धनराशि हस्तांतरित करना चाहता है, तो वह यह कह सकता है कि

वह NEFT की प्रक्रिया के माध्यम से ऐसा कर सकता है, न कि धन निकालने के बदले और फिर इसे नकद में या चेक लिखकर

 

NEFT process

चुकाएगा। NEFT द्वारा पेश मुख्य लाभ यह है कि यह किसी भी शाखा के किसी भी खाते से किसी भी स्थान पर स्थित किसी अन्य बैंक

खाते में धनराशि स्थानांतरित कर सकता है। एकमात्र शर्त यह है कि प्रेषक और रिसीवर दोनों शाखाएँ NEFT- सक्षम होनी चाहिए। आप RBI

की वेबसाइट पर NEFT- सक्षम बैंक शाखाओं की सूची देख सकते हैं या उसी की पुष्टि के लिए अपने बैंक की ग्राहक सेवा को कॉल कर

सकते हैं। एनईएफटी प्रणाली भारत-नेपाल सुविधा सुविधा योजना के तहत भारत से नेपाल के लिए एकतरफा सीमा पार हस्तांतरण की

सुविधा भी देती है।

Who can make NEFT transaction? NEFT लेनदेन कौन कर सकता है?

भारतीय रिजर्व बैंक भाग लेने वाली बैंक शाखाओं की एक सूची प्रदान करता है, जो एनईएफटी-सक्षम हैं, जिसका अर्थ है कि कोई इन बैंक

शाखाओं के माध्यम से NEFT लेनदेन कर सकता है। जैसा कि पहले ही कहा जा चुका है, कोई भी व्यक्ति, फर्म या कॉर्पोरेट, जो एक

भाग लेने वाली शाखा के साथ बैंक खाता रखता है, किसी भी समय एनईएफटी हस्तांतरण कर सकता है। हालांकि, अगर कोई बैंक खाता

नहीं रखता है, तो भी वह NEFT- सक्षम शाखा में नकद जमा कर सकता है, बशर्ते कि वह अपने Adress, Email Id, Contact number और

बैंक के बारे में अधिक जानकारी प्रस्तुत करे।

 

आप NEFT सेवा के साथ और क्या कर सकते हैं?

अब जब आप जानते हैं कि एनईएफटी क्या है, तो यह उल्लेखनीय है कि एनईएफटी की सेवा का उपयोग ऋण, ईएमआई, क्रेडिट कार्ड की

बकाया राशि और अधिक भुगतान करने के लिए किया जा सकता है। इसलिए, एनईएफटी की सेवा केवल व्यक्तिगत फंड ट्रांसफर तक ही

सीमित नहीं है।

 

एनईएफटी का उपयोग करने के लाभ |

NEFT की प्रक्रिया में, आपको पहली बार लाभार्थी का विवरण दर्ज करना होगा जिसके बाद आप सूची से लाभार्थी का चयन कर सकते हैं,

राशि दर्ज करें और भेजें। एनईएफटी लेनदेन के कुछ लाभों पर एक नज़र डालें जो आपके दैनिक लेनदेन को सरल बना सकते हैं:

लेन-देन करने के लिए किसी भी पार्टी की कोई भौतिक उपस्थिति आवश्यक नहीं है। साथ ही, किसी भी भौतिक साधन को लेनदेन को

समाप्त करने के लिए, किसी भी समय किसी भी बिंदु पर, संचालन दलों के बीच स्थानांतरित करने की आवश्यकता नहीं है।बैंक में किसी भी

यात्रा की आवश्यकता नहीं है, जब तक कि कोई व्यक्ति वैध बैंक खाता नहीं रखता है।

एक भौतिक साधन की कमियों को आसानी से दूर किया जाता है। इसका मतलब यह है कि एनईएफटी ने किसी भी मौद्रिक साधनों की

भौतिक क्षति, इसके चोरी या फोर्जिंग को पूरी तरह से छोड़ दिया है।

एनईएफटी सरल और कुशल है। यह एक मिनट के समय के भीतर किया जा सकता है और इसमें शायद ही कोई बड़ी औपचारिकता

शामिल हो।एक सफल लेनदेन की पुष्टि आसानी से ईमेल और एसएमएस सूचनाओं के माध्यम से प्राप्त और देखी जा सकती है।

इंटरनेट बैंकिंग किसी भी जगह से शुरू और संचालित की जा सकती है। इसका मतलब है कि किसी व्यक्ति को एनईएफटी लेनदेन करने के

लिए किसी विशेष स्थान पर उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं है।वास्तविक समय लेनदेन दोनों पक्षों को आश्वासन प्रदान करते हैं।

 

क्या आपको NEFT का उपयोग करना चाहिए?

एनईएफटी के माध्यम से फंड ट्रांसफर का सबसे अच्छा विकल्प यह है कि आपके पास लेनदेन का कानूनी रिकॉर्ड है जिसे किसी भी समय

एक्सेस किया जा सकता है। यह पक्ष में या अधिकारियों के बीच किसी भी विवाद के मामले में उपयोग में आता है। सामान्य तौर पर,

एनईएफटी के साथ लेनदेन की आसानी को देखते हुए, इसका उपयोग करने के लिए अत्यधिक सलाह दी जाती है। NEFT क्या है, यह जानने

के बाद अब आप आसानी से इस फंड ट्रांसफर प्रक्रिया का उपयोग कर सकते हैं।

 

 

Categories
Make Money

affiliate marketing kya hai in hindi | हिंदी में जाने

यदि आपके blog या website है, तो extra income करने के लिए affiliate marketing एक उपयोगी तरीका है। amazon affiliate

program, जिसे Amazon Associates कहा जाता है, आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर एक विशेष link का उपयोग करके खरीदी गई

खरीदारी पर 4-10 प्रतिशत या उससे अधिक कमाने की अनुमति देता है। amazon affiliate program के साथ पैसे कमाने का तरीका

जानने के लिए आगे पढ़ें।

affiliate marketing kya hai

affiliate marketing

affiliate Marketing, marketing का एक ऐसा तरीका है, जिसमे कोई व्यक्ति अपने किसी source, जैसे कि ब्लॉग या वेबसाइट के द्वारा,

किसी अन्य कंपनी या organization के products को प्रमोट करता है या recommend करता है। इसके बदले में वह कंपनी या

Organization उस व्यक्ति को कुछ commission देती है। अलग-अलग products के हिसाब से अलग-अलग commission होती है। यह

commission sale का कुछ प्रतिशत हिस्सा भी हो सकती है या कुछ निश्चित राशी भी। यह products कुछ भी हो सकते हैं, web hosting

से लेकर कपड़ों या electronics तक।

 

वैसे तो Affiliate marketing के लिए लोग बोहोत से तरीके को अपनाते हे पर हम आज उसीमे से सबसे ज्यादा अपनाने वाले दो तरीके को

बताएँगे जहा से आपलोगो को अच्छे खासे इनकम हो सके |

1.Blog or Website

2.Youtube

Facebook  से Affiliate marketing करके एअर्निंग करने हो तोह ये पोस्ट देखिये 

 

Start a Website/Blog

 

amzon के सबसे अच्छे सहयोगी ब्लॉगर्स या वेबसाइट हैं जो अमेज़ॅन के लिंक को अपनी साइट पर गुणवत्ता सामग्री के साथ जोड़ते हैं।

Blogger, WordPress या इसी तरह की साइट का उपयोग करके एक मुफ्त ऑनलाइन ब्लॉग शुरू करें। जब से आप इन ब्लॉगों को मुफ्त

में शुरू करते हैं, तो लागत केवल उस समय होती है जब आप designing और सामग्री को जोड़ते हैं। ऐसा कुछ चुनें, जिस पर आप

भावुक(passionate) हों, ताकि आप दिलचस्प सामग्री जोड़ सकें और अनुयायियों का विकास कर सकें।

 

एक वेबसाइट स्थापित करें। personal या व्यावसायिक वेबसाइट भी संबद्ध प्रोग्राम का उपयोग कर सकते हैं। हालांकि, वे उन लोगों के साथ

सबसे अधिक उपयोग किए जाते हैं जो अपनी वेबसाइट पर समान उत्पाद नहीं बेचते हैं, क्योंकि अमेज़ॅन का बाज़ार व्यापार को दूर कर

सकता है। यदि आपके पास विभिन्न उत्पादों, एक क्लब, एक गैर-लाभकारी या सेवा को बढ़ावा देने वाली एक वेबसाइट है, तो आप अपनी

साइट पर गुणवत्ता वाले उत्पादों की सिफारिश कर सकते हैं और पैसा कमा सकते हैं।

Amazon affiliate account बनाने के लिए के लिए यह वीडियो देखें……………

 

अपने ब्लॉग या साइट के लिए Social media account  सेट करें। यह search engine ranking  में सुधार करने, अपने पाठकों के संपर्क

में रहने और आपके द्वारा साझा किए जाने वाले लिंक की मात्रा बढ़ाने का एक शानदार तरीका है। जब आप सिफारिश करना चाहते हैं तो

आप Facebook, twitter या LinkedIn पर अमेज़न लिंक पोस्ट कर सकते हैं।

 


Post quality content consistently”-

आप अपनी content के मूल्य से पाठकों को आकर्षित करते हैं, इसलिए प्रति सप्ताह कम से कम एक बार अपने ब्लॉग / वेबसाइट पर पोस्ट करें।


Optimize your earnings by posting links regularly(
नियमित रूप से लिंक पोस्ट करके अपनी कमाई का अनुकूलन करें)

इसका मतलब यह है कि आपको अपने ब्लॉग पोस्ट में उत्पाद अनुशंसाओं को शामिल करने के लिए रचनात्मक तरीकों की तलाश करनी

चाहिए, जबकि अभी भी पाठक को पता है कि आप उन्हें अपने वेबसाइट विषय पर विशेषज्ञता प्रदान कर रहे हैं |

समय के साथ कई विभिन्न प्रकार के उत्पादों के लिंक बनाएं। अमेज़ॅन आपको पूरी खरीद के आधार पर एक विज्ञापन शुल्क का भुगतान

करता है जो व्यक्ति करता है, न कि केवल आपके द्वारा विज्ञापित उत्पाद।

अपने ब्लॉग या वेबसाइट को optimize करें। अपनी साइट पर web traffic बढ़ाने के लिए search engine optimization प्रथाओं, जैसे

keyword density, short URL और backlink को अपनाएँ। जितने अधिक लोग पढ़ते हैं, आपके amazon associate link पर उतने

अधिक क्लिक होंगे।

Youtube :-

youtube pe affiliate

उसी तरह लोग Youtube  पे products का review  करके एफिलिएट मार्केटिंग करते हे | आप लोग अगर यूट्यूब पे एक्टिव रहते हे तो

आपको पता ही होगा बोहोत से टेक्निकल चैनल यूटुब पे नया मोबाइल नया लैपटॉप या कुसभी गैजेट रिव्यु करते हे और बोलते हे निचे

description में लिंक हे जाके देखे | तोह अगर कोई उस लिंक पे जाके वो देखे और उसे खरीदते हे तोह उस सीज की किस्सों यूटूबेर को

मिलेगा | मान लो एक यूटूबेर के 3lakh subscriber हे और उनमेसे 300 लोग वो ख़रीदे और एक खरीदारी में 500 का commission मिलते हे

और 300 का आप हिसाब लगा सकते हे की  कितने कमीशन मिलेगा | अगर आपको ये आईडिया पसंद आया तो आप भी एक यौतुबे चैनल

खोल के एफ्लीएट मार्केटिंग कर सकते हे |

 

आशा करते हे की आपको affiliate marketing  बारे में पता साल गया होगा और ये कैसे काम करतेहै |अगर आपको इसके बारेमे

और अधिक जाना हे तो आप निचे Comment कर सकते हे |अगर आपको हमारे ये पोस्ट अच्छा लगा हो तोह इसको अपने दोस्तों के साथ

जरूर शेयर करे | धन्यबाद |||